Topview

Vivaah Shubh Muhurat 2022: जाने विवाह करने के सबसे ( शुभ मुहूर्त ) शुभ दिन

 

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

Vodafone idea का Q2 घाटा कम होकर 7132 करोड़ रुपए, प्रति ग्राहक आई में बढ़त

 सितंबर तिमाही के अंत तक कंपनी का ए आर पी यू 4.8% की बढ़त के साथ ₹109 के स्तर पर पहुंच गया, हालांकि सब्सक्राइबर बेस् में कमी दर्ज हुई Vodafone idea 2022

वोडाफोन आइडिया का दूसरी तिमाही में घाटा कम हुआ

नई दिल्ली। वोडाफोन आइडिया का दूसरी तिमाही में कंसोलिडेट घाटा कम होकर 7132 करोड़ रुपए रहा है। कंपनी ने आज जारी हुई तिमाही नतीजे में यह जानकारी दी। कंपनी का पहली तिमाही में कंसोलिडेट घाटा 7319 करोड़ रुपए और पिछले साल की इसी तिमाही में घाटा 7218 करोड़ रुपए था। बाजार के जानकारों के तिमाही के दौरान घाटा 7400 करोड़ रुपए के पार पहुंचने का अनुमान दिया था।

Vodafone idea ने जानकारी दी कि कंपनी ने अपने एआरपीयू को बेहतर बनाने के लिए कुछ प्लान की कीमतों को बढ़ाने की रणनीति पर अमल किया था। कंपनी ने शुरुआती प्रीपेड प्लान की दरें और कुछ पोस्टपेड प्लान की दरों में बढ़ोतरी की।

वही तिमाही के दौरान कंपनी के कारोबार से इनकम पिछली तिमाही के मुकाबले 3 प्रतिशत की बढ़त के साथ 9406 करोड़ रुपए रही है। वहीं पिछले साल की इसी तिमाही के मुकाबले इसमें 13% की गिरावट देखने को मिली है। पिछली तिमाही के मुकाबले कंपनी का कंसोलिडेटेड ऑपरेटिंग प्रॉफिट 4.2 प्रतिशत की बढ़त के साथ 3862.9 करोड़ रुपए रहा है। वहीं इसी दौरान कंसोलिडेटेड मार्जिंन 60 बेस पॉइंट बढ़त के साथ 41.1 प्रतिशत पर पहुंच गया है। इसके साथ ही कंपनी की प्रति ग्राहक आय यानि एआरपीयू में भी बढ़त देखने को मिली है। सितंबर तिमाही के अंत तक कंपनी का एआरपीयू (Average revenue per user) 4.8 प्रतिशत की बढ़त के साथ ₹109 के स्तर पर पहुंच गया हालांकि कंपनी के सब्सक्राइबर बेस में गिरावट जारी है तिमाही के अंत में कंपनी के सब्सक्राइबर की संख्या 25.3 करोड़ के स्तर पर थी। पहली तिमाही में ये आंकड़ा 25.55 करोड़ के स्तर पर था।

Vodafone idea 2022 sarkariyojnaa.com

The company's ARPU increased by 4.8% to ₹109 at the end of September quarter, though the subscriber base showed a decline

Vodafone Idea's loss narrows in the second quarter

new Delhi. Vodafone Idea's consolidated loss narrowed to Rs 7132 crore in the second quarter. The company gave this information in the quarterly results released today. The company had a consolidated loss of Rs 7319 crore in the first quarter and a loss of Rs 7218 crore in the same quarter

last year. Market experts had estimated the loss to cross Rs 7400 crore during the quarter.
Vodafone Idea informed that the company had followed the strategy of increasing the prices of some plans to improve its ARPU. The company increased the rates of the initial prepaid plans and the rates of some postpaid plans. Vodafone idea 2022 https://cscdigitalsevasolutions.com/

Vodafone idea 2022


During the same quarter, the income from business of the company has increased by 3 percent over the previous quarter to Rs.9406 crore. At the same time, it has seen a decline of 13% compared to the same quarter last year. The company's consolidated operating profit stood at Rs 3862.9 crore, up 4.2 per cent over the previous quarter.

At the same time, the consolidated margin has increased by 60 basis points to 41.1 percent. Along with this, there has also been an increase in the company's earnings per customer i.e. ARPU. At the end of September quarter, the company's ARPU (Average revenue per user) increased by 4.8 percent to ₹109, although the company's subscriber base continues to decline, the company's subscriber base stood at 253 million at the end of the quarter. Was. In the first quarter, this figure was at the level of 25.55 crores. Vodafone idea 2022

RELIANCE RETAIL VENTURES LIMITED (RRVL ABRAHAM & THAKORE EXPORTS PVT LTD

 Mumbai, March 01, 2022: RELIANCE RETAIL VENTURES LIMITED (RRVL), a subsidiary of

Reliance Industries Limited and the holding company of all retail companies within the group, has

invested in ABRAHAM & THAKORE EXPORTS PVT LTD for a majority stake. RRVL seeks to

leverage its subsidiary RELIANCE BRANDS LIMITED’S (RBL) deep understanding of the

affluent Indian customer and their heft across digital, retail operations, marketing, and supply

chain platforms, to build brand Abraham & Thakore’s global appeal in the fashion and lifestyle

category.

Launched in 1992 by David Abraham and Rakesh Thakore, they were soon joined by Kevin Nigli

who famously became the “&” in Abraham & Thakore (A&T). A&T unlocked the potential and

power of Indian handlooms by approaching them with modernity and meaning through weaving

and design intervention in unconventional, even non-conformist ways.

A&T’s interpretation of Indian textiles started with loungewear and home collections that were first

sold at The Conran Shop in London and later in global stores of repute such as Liberty, Browns,

Harrods, and Selfridges. For almost 15 years the brand mostly retailed predominantly in

international stores before coming to India with their first fashion show presentation.

The brand is strongly rooted in the philosophy of understanding the cultural construct of fashion.

Not only is an Abraham & Thakore Ikat sari a part of the permanent collections of the Victoria &

Albert Museum, but in 2015 the brand’s creations were chosen for Fabric of India, V&A’s first

major exhibition that explored the rich, multi-faceted and dynamic world of Indian handmade

fabrics. Each collection continues the exploration of developing a quiet and modern design voice

while simultaneously drawing on the rich traditional vocabulary of Indian design and craft. Its

strong cultural language gives it a unique resonance in different mindsets and markets.

“Abraham & Thakore’s interesting use of material and fresh take on traditional textile techniques

have crafted a highly distinctive design signature for the brand. With Indian luxury customers

undergoing a generational consumption shift, there is heightened appreciation of Abraham &

Thakore’s timeless design, and we are excited to partner with the brand to bring its unique

expression of Indian craftmanship to consumers globally,” said Isha Ambani, Director, Reliance

Retail Ventures Limited.

“Abraham & Thakore is excited to partner with RRVL, the company responsible for redefining

India’s luxury landscape. Through this partnership we will be extending the presence of the brand

and bring together both fashion and lifestyle collections which will include home furnishings and

lounge wear,” said David Abraham.

The design trio, David Abraham, Rakesh Thakore and Kevin Nigli will continue to lead the creative

direction of the brand.


Page 2 of 2


ABOUT RELIANCE RETAIL VENTURES LTD (RRVL):

RRVL is a subsidiary of Reliance Industries Ltd and the holding company of all the retail

companies within the Group. RRVL reported a consolidated turnover of ₹ 1,57,629 crore ($ 21.6

billion) and net profit of ₹ 5,481 crore ($ 750 million) for the year ended March 31, 2021.

Reliance Retail is the largest and the most profitable retailer in India with the widest reach. It has

been listed among the fastest growing retailers in the world in the Deloitte's Global Powers of

Retailing 2021 index. It is ranked 53rd in the list of Top Global Retailers and is the only Indian

Retailer to feature in the Top 100.

ABOUT RELIANCE BRANDS LIMITED (RBL):

Reliance Brands Limited (RBL) is part of India's largest private sector company, Reliance

Industries Limited (RIL) that had a consolidated turnover of $73.8 billion in the year ended 31st

March 2021. Making RIL the highest ranked Indian company in Fortune’s Global 500 list of

“World’s Largest Companies”.

RBL began operations in 2007 with a mandate to launch and build global brands in luxury to

premium segment across fashion and lifestyle. Its current portfolio of brand partnerships

comprises AK-OK, Armani Exchange, Bally, Bottega Veneta, Brooks Brothers, Burberry, Canali,

Coach, Diesel, Dune, EA7, Emporio Armani, Ermenegildo Zegna, G-Star Raw, Gas, Giorgio

Armani, Hamleys, Hugo Boss, Hunkemoller, Iconix, Jimmy Choo, Kate Spade New York, Michael

Kors, Mothercare, Muji, Paul & Shark, Paul Smith, Pottery Barn, Pottery Barn Kids, Replay, Ritu

Kumar, Salvatore Ferragamo, Satya Paul, Steve Madden, Superdry, Scotch & Soda, Tiffany &

Co., Tory Burch, Tumi, Valentino, Versace, Villeroy & Boch and West Elm. RBL today operates

1,596 doors split into 680 stores and 916 shop-in-shops in India. In May 2019, RBL marked its

first international foray by acquiring the British toy retailer, Hamleys. Globally Hamleys has 215

doors across 17 countries.

RBL also has equity investments in Indian couture brands Manish Malhotra and Raghavendra

Rathore.

Press Contacts:

RELIANCE RETAIL

Manish Bhatia

manish.b.bhatia@ril.com


RELIANCE BRANDS LTD.

Surabhi Negi

Surabhi.Negi@ril.com

e-Shram Yojana Kya hai|ई श्रम योजना क्या है | e shram card benefits

 

E Shram Card: अब मिलेगा 3,000 ऐसे, सिर्फ इन लोगो को मिलेंगे 1000 मिलेगा

ई श्रम पोर्टल पंजीकरण सीएससी लॉगिन https eshram.gov.in पर स्वयं पंजीकरण ऑनलाइन shramsuvidha.gov.in। NDUW e SHRAM पोर्टल पात्रता, लाभ और उद्देश्यों की जाँच करें। eSHRAM पोर्टल ऑनलाइन register.eshram.gov.in सीएससी पंजीकरण लागू करें। NDUW E श्रम पोर्टल हाल ही में असंगठित श्रमिकों के लिए शुरू किया गया है। सीएससी आश्रम कार्ड स्व पंजीकरण ऑनलाइन पोर्टल भारत सरकार द्वारा श्रमिक के Click Here to Direct Download Link ] लिए एक पहल है। इसे देश भर में इसके समग्र कल्याण के लिए असंगठित श्रमिकों के लिए डिजाइन किया गया है। मूल रूप से ई श्रम पोर्टल एक प्रकार का राष्ट्रीय डेटाबेस पोर्टल है जो लिंक में https रजिस्टर एशराम जीओवी है। इस पोर्टल की मुख्य यूएसपी यह है कि सिर्फ इसलिए कि अब राज्य और केंद्र सरकार यूडब्ल्यू को सभी प्रकार की सहायता प्रदा करने में सक्षम होगी। e shram benefits, E-Shram Card, 






e shram card status: कोरोना काल में आर्थिक मंदी से जूझ रहे श्रमिक वर्ग के नागरिकों के लिए श्रम और रोजगार मंत्रालय की ई-श्रम योजना काफी मददगार साबित हो रही है. इस योजना के तहत योगी सरकार ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्टर्ड लोगों को बैंक खाते में 2 महीने के हिसाब से 1000 रुपए ट्रांसफर कर चुकी है, लेकिन ऐसे बहुत लोग हैं, जिन्होंने इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन तो कराया है, लेकिन उनके खाते में अभी तक पहली किस्त नहीं आई है.

 










What's in this post?