Vivaah Shubh Muhurat 2022: जाने विवाह करने के सबसे ( शुभ मुहूर्त ) शुभ दिन

Vivaah Shubh Muhurat 2022: जाने विवाह करने के सबसे ( शुभ मुहूर्त ) शुभ दिन

 

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

मिथिला: इस बीच होलाष्टक (होलाष्टक 2022) होगा और उसके बाद सूर्य की मीन राशि शुरू होगी। अगला विवाह मुहूर्त (विवाह मुहूर्त 2022) 15 अप्रैल के बाद ही शुरू होगा। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान, जयपुर, जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डॉ. अनीश व्यास ने बताया कि बृहस्पति 22 फरवरी को अस्त होगा।

[caption id="attachment_727" align="alignnone" width="809"]Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh Muhurat 2022 Vivaah Shubh new list 2022[/caption]


22 फरवरी से 24 मार्च के बीच देव गुरु बृहस्पति अष्ट रहेंगे,
देव गुरु बृहस्पति के अस्त होने को सामान्य बोलचाल की भाषा में
(गांव घर की भाषा में) तारा लगना भी कहते हैं ,
तारा लगने पर शादी विवाह
( मैरिज डेट्स 2022) जैसे कार्य वर्जित रहते हैं (मतलब बंद रहता है) इसी बीच होलाष्टक लग जाएंगे और उसके बाद सूर्य के मीन मलमास शुरू हो जाएंगे,       

मई - 02, 03, 09, 10, 11, 12, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 26, 27, 31

Comments

Post a Comment